फिल्में तीन ही चीजों पर चलती हैं. एंटरटेंमेंट, एंटरटेंमेंट और एंटरटेमेंट. ये बात परम ज्ञानी विद्या बलान ने अपनी पिक्चर डर्टी पिक्चर में कही थी, पर बोली किसी ने है तो किसी ने तो लिखी होगी. फिल्म ये डायलॉग किसने लिखा पता नहीं, लेकिन आप एंटरटेंमेंट इंडस्ट्री में हैं तो आपके लिए नोएडा में जॉब है. फलसफा यहां खत्म, अब जॉब की बात.
एंटरटेमेंट और लाइफ स्टाइल बीट के लिए नोएडा में जॉब है. मिनिमम दो साल का अनुभव चाहा गया है. इंग्लिश में पारंगत होना चाहिए बंदा या बंदी. एजेंसीज से खबरें लेनी होंगी. अपने आप को उपर्युक्त समझने वाले कैंडिडेट इस ईमेल आईडी पर संपर्क कर सकते हैं.
rupashi@exsearch.in

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here